ज्येष्ठ पूर्णिमा व्रत में करें चंद्र दर्शन, दूर होगा चंद्रदोष, जानें मुहूर्त और चंद्रोदय टाइम

0
4


Jyeshtha Purnima 2022 Vrat Chandra Darshan: इस साल 2022 में ज्येष्ठ मास की पूर्णिमा 14 जून दिन मंगलवार को पड़ रही है. इस पूर्णिमा में व्रत पूजन करने से चंद्र दोष दूर होता है. भीषण गर्मी के प्रकोप से बचने के लिए लोगों को प्रयासरत रहना चाहिए. ऐसे में किसी भी व्रत पूजन का विशेष महत्व है. अगर पूर्णिमा के दिन व्रत किया जाता है. तो उसे पितृदोष से भी मुक्ति प्राप्त होती है. संतान सुख भी प्राप्त होता है और चंद्र दोष भी दूर हो जाता है.

पूर्णिमा की तिथि और शुभ मुहूर्त

  • पूर्णिमा की तिथि 13 जून रात 9:02 पर शुरू होकर और 14 जून दिन मंगलवार को समाप्त होगी.
  • पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त प्रात: 11:54 से दोपहर 12:49 तक रहेगा.
  • पूर्णिमा के दिन चंद्रोदय का समय 7:29 पर है

ज्येष्ठ पूर्णिमा व्रत चंद्रोदय समय (Jyeshtha Purnima 2022 Moonrise Time)

पूर्णिमा के दिन चंद्रोदय का समय शाम 7 बजकर 29 मिनट है. ऐसे में चंद्रदेव की पूजा का विशिष्ट लाभ है.

पूर्णिमा व्रत पूजा विधि (Jyeshtha Vat Purnima 2022 Vrat Puja Vidhi)

ज्येष्ठ मास की पूर्णिमा का व्रत रखने वाले सुबह-सुबह स्नान करके व्रत का प्रारंभ करते हैं. महिलाएं व्रत के दिन फलाहार रहती हैं. शाम के समय चंद्र दर्शन करके ही व्रत का पारण किया जाता है. इस दिन लोग सत्यनारायण व्रत की कथा का श्रवण भी करते हैं. माता लक्ष्मी की कृपा प्राप्त करने के लिए मां लक्ष्मी की पूजा अर्चना भी की जाती है. चंद्रमा का दर्शन करने से चंद्र दोष दूर हो जाता है.

एक लोटे में पानी लेकर उसमें दूध, शक्कर, अक्षत और फूल डालकर चंद्र दर्शन के समय जल चढ़ाया जाता है. ऐसा करने से महिलाओं को संतान सुख की प्राप्ति होती है. ज्येष्ठ मास की पूर्णिमा के दिन ही महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए बरगद के पेड़ की पूजा करती हैं. साथ ही घर की उन्नति और संपन्नता के लिए माता लक्ष्मी से प्रार्थना करती हैं.

वट सावित्री का व्रत उत्तर भारत में जेष्ठ मास की अमावस्या को मनाया जाता है. जेठ का बड़ा मंगल भी 14 जून को है. इस दिन पूजा-पाठ और व्रत रखने से बजरंगबली की भी कृपा प्राप्त होगी.

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.



Source link

पिछला लेखएक्टर कमल हसन ने फिल्म डायरेक्टर कनगराज को गिफ्ट की लग्जरी कार, देखें क्या है खासियत?
अगला लेखAstrology : हमेशा बदला लेने के लिए आतुर रहते हैं इस राशि के लोग
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।