जुड़वा भाई-बहन आदित्य और आनंदिता ने दसवीं में बराबर अंक 99.20 % हासिल कर जोड़ी में किया टॉप

0
5


  • 10वीं (ICSE) में 99.33% और 12वीं (ISC) में 96.84% स्टूडेंट्स से हासिल की सफलता
  • CISCE की परीक्षाओं को 19 मार्च के बाद स्थगित कर दिया गया, जिसे बाद में रद्द कर दिया था

दैनिक भास्कर

Jul 11, 2020, 12:18 PM IST

शुक्रवार को आईसीएसई बोर्ड ने 10वीं व 12वीं का परीक्षा परिणाम जारी कर दिया। जहां 10वीं कक्षा में आदित्य मिश्रा और आनंदिता मिश्रा जुड़वा भाई-बहन जोड़ी में ही बराबर अंक हासिल कर पढ़ाई में भी डिस्ट्रिक टॉपर बन गए। जुड़वा भाई-बहन काउंसिल ऑफ इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआईएससीई) से दसवीं कक्षा की परीक्षा में दोनों ने 99.20 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। 

स्कॉटिश इंटरनेशनल हाई स्कूल में पढ़ते है दोनों 

आदित्य मिश्रा और आनंदिता मिश्रा स्कॉटिश इंटरनेशनल हाई स्कूल में पढ़ते है और निरवाना कंट्री में परिवार के साथ रहते हैं। जबकि 12वीं में आन्या इकोनोमिक्स में 99.55 फीसदी अंक व मेहर जोशी ह्मूमेनिटीज स्ट्रीम में 99.5 फीसदी अंक के साथ टॉपर रही। 10वीं कक्षा की आनंदिता मिश्रा अर्थशास्त्री जबकि उसका भाई आदित्या कंप्यूटर इंजीनियर बनना चाहता है। 

मल्टीनेशनल कंपनी में कंट्री हैड के तौर पर कार्यरत पिता प्रभाकर मिश्रा ने बताया कि दोनों भाई-बहन में पढ़ने की लगन देखकर उन्होंने कक्षा के अलावा बच्चों के लिए ऑनलाइन ऑडियों विजुअल स्टडी मैटेरियल भी एकत्रित किए हैं।

12वीं में आन्या इकोनोमिक्स में 99.55% अंक लेकर बनी टॉपर

श्रीराम मॉल्सरी स्कूल छात्रा आन्या पाटिल ने 12वीं कक्षा में साइंस स्ट्रीम के साथ 99 55 फीसदी अंक प्राप्त किए हैं। साउथ दिल्ली में रहने वाली आन्या अब इकोनामिक की पढ़ाई करना चाहती है। वहीं आगे जाकर फाइनेंस के फील्ड में काम करने की योजना बना रही है। आन्या के माता-पिता दोनों ही मेडिकल फील्ड से हैं। मां डॉ. सीमा शर्मा और पिता डॉ संजय पाटिल दोनों ही दिल्ली में डॉक्टर हैं।

मेहर जोशी ने ह्मूमेनिटीज स्ट्रीम में हासिल किए 99.5% अंक

श्रीराम मॉल्सरी स्कूल की छात्रा मेहर जोशी ने ह्यूमेनिटीज स्ट्रीम में 99.5 अंक प्राप्त करके अव्वल स्थान प्राप्त किया है। 12वीं के बाद अब वह सोनीपत की अशोका यूनिवर्सिटी से इकोनॉमिक्स में आगे पढ़ाई करने की योजना बना रही हैं। उनकी मां अनुजा और पिता अविनाश अलग-अलग प्राइवेट फील्ड में कार्यरत हैं। सेक्टर 50 में रहने वाली मेहर बताती हैं कि परीक्षाओं से कुछ समय पहले ही उन्होंने गणित में ट्यूशन लिया था।



Source link

पिछला लेखCoronavirus: वहां की सरकार लोगों का भारत की तरह ख्याल नहीं रख पा रही है, मैं यहीं रहना चाहता हूं: अमेरिकी नागरिक जॉनी पियर्स
अगला लेखजयपुर खुली जेल से भागा बंदी
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।