जब 6.2 फीट के जवागल श्रीनाथ को पहनना पड़ा सचिन तेंडुलकर का ट्राउजर, हेमंग बदानी ने बताया पूरा ड्रामा

0
5


Edited By Nityanand Pathak | आईएएनएस | Updated:

हाइलाइट्स

  • पूर्व भारतीय क्रिकेटर हेमंग बदानी ने सचिन तेंडुलकर के एक प्रैंक का जिक्र किया है
  • श्रीनाथ काफी नर्वस थे और सचिन ने उनका मूड ठीक करने के लिए उनके साथ मजाक करने के बारे में सोचा
  • जवागल श्रीनाथ छह फुट दो इंच के थे और सचिन तेंडुलकर पांच फुट पांच इंच के
  • सचिन के कहने हेमंग ने कुछ ऐसा किया कि श्रीनाथ मास्टर का ट्राउजर पहनकर मैदान में उतर गए थे

नई दिल्ली

भारत के पूर्व बल्लेबाज हेमंग बदानी (Hemang Badani) ने कहा है कि एक बार सचिन तेंडुलकर (Sachin Tendulkar) ने उनसे पूर्व तेज गेंदबाज जवागल श्रीनाथ (Javagal Srinath) के ट्राउजर की अदला-बदली करने के लिए कहा था। 2002 में कटक में इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले मैच से पहले बदानी ने कहा कि श्रीनाथ काफी नर्वस थे और सचिन ने उनका मूड ठीक करने के लिए उनके साथ मजाक करने के बारे में सोचा।

बदानी ने इंस्टाग्राम पेज पर कहा, ‘कटक में कुछ अजीब कारण से, वह (श्रीनाथ) बेहद घबराए हुए थे। बेहद नर्वस थे, जो कि वह सामान्य तौर पर नहीं होते हैं। मैं उस मैच में नहीं खेल रहा था, इसलिए सचिन मेरे पास आए और उन्होंने मुझसे श्रीनाथ के साथ एक गेम खेलने को कहा। श्रीनाथ छह फुट दो इंच के थे और सचिन पांच फुट पांच इंच के।’ उन्होंने कहा, ‘सचिन ने मुझसे कहा-सुनो तुम यह मेरी ट्राउजर लो और इसे जाकर श्रीनाथ के किट बैग में डाल दो और उनकी ट्राउजर कहीं भी ले जाकर रख दो।’

सचिन को दो बार दिया था गलत आउट, अंपायर बकनर ने अब स्वीकार की गलतीसचिन को दो बार दिया था गलत आउट, अंपायर बकनर ने अब स्वीकार की गलतीपूर्व अंपायर स्टीव बकनर ने बताया कि उन्होंने महान बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर को दो बार गलत आउट दिया था। बकनर ने 2003 में ऑस्ट्रेलिया के गाबा में खेले गए मैच को याद किया, जिसमें उन्होंने सचिन को आउट दे दिया था, जबकि वह आउट नहीं थे। उन्होंने 2005 में भी ईडन गार्डंस स्टेडियम में खेले गए मैच में पाकिस्तान के अब्दुल रज्जाक की गेंद पर सचिन को कैच आउट दे दिया था।

पूर्व क्रिकेटर ने कहा, ‘श्रीनाथ ने इसे नोटिस नहीं किया और वह सचिन का छोटा ही ट्राउजर पहनने लगे। श्रीनाथ प्रैक्टिस से लौटे और अपने बैग से ट्राउजर निकाली और पहन ली। उन्होंने बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया कि यह पैंट किसकी है। वह ट्राउजर पहनकर सीधे मैदान पर उतर गए। उन्होंने एक ओवर भी फेंक दिया।’

गैरी कर्स्टन का खुलासा, 2007 में ही रिटायरमेंट को तैयार थे सचिन तेंडुलकरगैरी कर्स्टन का खुलासा, 2007 में ही रिटायरमेंट को तैयार थे सचिन तेंडुलकरपूर्व कोच गैरी कर्स्टन ने खुलासा किया कि दिग्गज सचिन तेंडुलकर ने 2007 में अपने करियर का अंत करने का मन बना लिया था। कर्स्टन ने कहा कि बल्लेबाजी के कई रेकॉर्ड अपने नाम रखने वाले सचिन तब बैटिंग ऑर्डर से खुश नहीं थे। भारतीय टीम ने अपनी मेजबानी में 2011 में जब विश्व कप जीता था तो कर्स्टन उस समय टीम के कोच थे।

बदानी ने कहा, ‘लेकिन ओवर फेंकने के बाद श्रीनाथ ने देखा कि पूरी टीम उन पर हंस रही है। तब वह सोच में पड़ गए और जब उन्होंने देखा कि उनकी जो पैंट है वह उनकी है ही नहीं। तो वह भी तुरंत मुस्कुराए और वापस ड्रेसिंग रूम में जाकर पैंट बदलकर आए।’



Source link

पिछला लेखबाजार मूल्य के हिसाब से टेस्ला बनी सबसे बड़ी कार कंपनी, टोयोटा को पीछे छोड़ा
अगला लेखजब तक डॉक्टर न कहें तब तक बंद न करें अस्थमा की दवा, क्या है डॉक्टरों की राय, जानें
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।