छोटा-नाजुक फालसा है गुणों की खान, जानें इस फल से जुड़ी रोचक बातें

0
1


इस फल की उत्पत्ति भारत में ही मानी गई है. यह फल जहां भी पहुंचा, भारत से ही गया. प्राचीन आयुर्वेद के ग्रंथों में फालसे का वर्णन है और इसे ‘परूषकं’ कहा गया है. ग्रंथों में इसके रस (शर्बत) का भी वर्णन किया गया है. आजकल यह भारत के अलावा नेपाल, पाकिस्तान, कंबोडिया, थाइलैंड और लाओस में भी पाया और उगाया जाता है. फालसा बहुत ही नाजुक फल होता है और इसे लंबी दूरी तक नहीं ले जाया जा सकता है. इसलिए इसे बहुतायत में नहीं उगाया जाता और इसी कारण इसका उपभोग स्थानीय तौर पर ही होता है और इसका उत्पादन दो माह में ही निपट जाता है. जिन शहरों के आसपास गांव हैं, वहां तक यह फल पहुंच जाता है.



Source link

पिछला लेखमहिंद्रा अगस्त में लॉन्च करेगी नई इलेक्ट्रिक SUV, जानें क्या हैं फीचर्स
अगला लेखSalman Khan: होश उड़ा देगा सलमान की हत्या की साजिश का सच, लॉरेंस का भाई बोला- वह माफी मांग लें बस…
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।