गुजरात : साबरकांठा में शराब की तस्करी के आरोप में दो पुलिसकर्मी गिरफ्तार

0
0


1 of 1





अहमदाबाद | साबरकांठा में आईएमएफएल शराब की तस्करी के आरोप में गुजरात पुलिस के दो कांस्टेबल समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। साबरकांठा स्थानीय अपराध शाखा (एलसीबी) ने गुरुवार रात 34,000 रुपये की कीमत की भारत निर्मित विदेशी शराब (आईएमएफएल) शराब की तस्करी करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार किया। अरावली जिले के पुलिस अधीक्षक संजय खरात ने शुक्रवार को मीडियाकर्मियों को बताया, गुरुवार शाम हिम्मतनगर एलसीबी ने बिना रजिस्ट्रेशन प्लेट वाली एक स्कॉर्पियो कार को रोका था, इसमें चार लोग सवार थे। कार की जांच करने पर हिम्मतनगर एलसीबी को आईएमएफएल की 240 बोतलें मिलीं। जिसकी कीमत 34 हजार रुपये बताई जा रही है। मामले के दो मुख्य आरोपी कांस्टेबल रोहित सिंह चौहान और विजय परमार हैं। यह दोनों अरावली पुलिस मुख्यालय में कार्यरत हैं।

आईएमएफएल की बोतलों को आरोपी गांधीनगर में देशी शराब बनाने वालों को देने जा रहे थे। रोहित सिंह और विजय राजस्थान से शराब की तस्करी कर विजय के खेत में रखते थे। अधिकारी ने कहा कि यहां से जब भी शराब तस्करों द्वारा मांग की जाती थी, वे यहां से आपूर्ति करते थे।

एसपी ने यह भी कहा कि पूर्व में विजय परमार को दो बार गिरफ्तार कर निलंबित किया जा चुका है। विजय परमार के खिलाफ पहला मामला मालपुर थाने में शराब तस्करी और दूसरी बार स्वेच्छा से चोट पहुंचाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। पुलिस रोहित सिंह और विजय परमार के खिलाफ कार्रवाई करेगी। इस बार उनकी सेवाएं समाप्त करने पर विचार किया जा रहा है।

शराब की तस्करी में कथित संलिप्तता के लिए पिछले दो वर्षों में पुलिस कर्मियों के खिलाफ छह मामले दर्ज किए गए हैं।(आईएएनएस)

ये भी पढ़ें – अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे





Source link

पिछला लेखइस राज्य में नर्सिंग ऑफिसर के 1500 से ज्यादा पद पर निकली वैकेंसी, 1, 42,000 तक होगी सैलरी
अगला लेख16GB तक रैम और 120W फास्ट चार्जिंग सपोर्ट के साथ आएगा Xiaomi 13 Pro, जल्द हो सकता है लॉन्च
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।