कांग्रेसी दिग्गज समेत कई नेता हुए सपाई, अखिलेश बोले- 2022 में देश और संविधान बचाने की लड़ाईकांग्रेसी दिग्गज समेत कई नेता हुए सपाई, अखिलेश बोले- 2022 में देश और संविधान बचाने की लड़ाई

0
1


लखनऊ: उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव में अब 6 महीने से कम वक्त बचा है. चुनाव जितना नजदीक आता जा रहा है नेताओं के दल बदल का कार्यक्रम भी शुरू हो गया है. इसी क्रम में शुक्रवार को कांग्रेस के दिग्गज नेता समेत अन्य कई नेता अखिलेश यादव की उपस्थिति में समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए. बुंदेलखंड के कांग्रेस प्रभारी व पूर्व विधायक गयादीन अनुरागी ने सपा का दामन थाम लिया है. 

कांग्रेस के दिग्गज विनोद चतुर्वेदी ने थामा सपा का दामन
कांग्रेस के दिग्गज नेता और उरई से दो बार के विधायक विनोद चतुर्वेदी ने पार्टी छोड़ सपा का दामन थाम लिया है. किन्नर महासभा, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी और जन परिवर्तन दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी धनगर ने शुक्रवार को समाजवादी पार्टी को समर्थन देने का ऐलान किया. छत्तीसगढ़ की गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का प्रभाव उत्तर प्रदेश के सोनभद्र आदि इलाकों में रहने वाले आदिवासी समाज पर है. 

पूर्व सांसद रिजवान जहीर और उनकी बेटी सपा में शामिल
इसके अलावा कई पूर्व विधायकों सहित कुछ अन्य लोग भी शुक्रवार को अखिलेश यादव के समक्ष समाजवादी पार्टी में शामिल हुए. महोबा से कांग्रेस के पूर्व प्रदेश महासचिव मनोज तिवारी, सहारनपुर से कई कांग्रेसी पार्षदों ने अपने समर्थकों के साथ समाजवादी पार्टी का दामन थामा. भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा अध्यक्ष और हरदोई जिलाध्यक्ष अरुण कुमार मौर्य, बलरामपुर से पूर्व सांसद रिजवान जहीर और उनकी बेटी जेबा रिजवान समर्थकों के साथ समाजवादी पार्टी में शामिल हुए.

यूपी चुनाव संविधान और देश बचाने की लड़ाई: अखिलेश
अखिलेश यादव ने इस मौके पर कहा कि आगमी यूपी विधानसभा चुनाव में भाजपा के खिलाफ सिर्फ समाजवादी पार्टी की लड़ाई नहीं है, यह देश और संविधान बचाने की लड़ाई है. भारतीय जनता पार्टी के राज में न किसानों का भला है, न व्यापारियों का और न नौजवानों का. भाजपा जितना झूठ बोलती है उतना कोई नहीं बोल सकता है. सभी को पता है कि देश की जनता महंगाई और बेरोजगारी से जूझ रही है, लेकिन भाजपा को इस बात की जानकारी ही नहीं है.

सपा 2022 में भाजपा को हराने के लिए तैयार: अखिलेश
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार के दौरान सबसे ज्यादा फेक एनकाउंटर और पुलिस हिरासत में मौतें उत्तर प्रदेश में हुई हैं. राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने सबसे ज्यादा नोटिस यूपी सरकार को भेजी हैं. उन्होंने कहा कि आज हर वर्ग और जाति के लोग भाजपा सरकार को हटाना चाहते हैं. क्योंकि इन्होंने छूठ और धोखे के अलावा कुछ नहीं दिया. तमाम उद्घाटन और शिलान्यास धोखा है. समाजवादी पार्टी और जनता 2022 यूपी चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को हराने के लिए तैयार है.

WATCH LIVE TV





Source link

पिछला लेखLIVE: Expo 2020 Dubai को संबोधित कर रहे हैं PM मोदी
अगला लेखलाइव शो के दौरान स्टेज पर धड़ाम से गिरीं Sapna Chaudhary, फिर किया ये काम
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।