“कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा करने में केंद्र विफल”; सरकार पर निशाना साधते हुए बोले असदुद्दीन ओवैसी

0
0


टारगेटेड हत्याओं से घाटी में दहशत का माहौल

हैदराबाद:

घाटी में लगातार हो रही टारगेटेड हत्याओं पर एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी सरकार को घेरते नजर आए. उन्होंने मंगलवार को आरोप लगाया कि केंद्र द्वारा संचालित प्रशासन घाटी में कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में विफल रहा है. उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 को यह कहते हुए सरकार ने रद्द कर दिया गया था कि पंडितों को इससे फायदा होगा और पंडित अब असुरक्षित महसूस कर रहे हैं क्योंकि सरकार उन्हें सुरक्षा प्रदान करने में विफल रही है.

यह भी पढ़ें

पंडितों पर हमलों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने हैदराबाद में संवाददाताओं से कहा, “बीजेपी द्वारा नियुक्त उपराज्यपाल और केंद्र द्वारा संचालित सरकार है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का प्रशासन वहां चलता है. वे असफल साबित हुए.” 2002 के गोधरा दंगों के बिलकिस बानो मामले में बलात्कार और हत्या के दोषियों की रिहाई की आलोचना करते हुए, ओवैसी ने कहा कि पीएम मोदी ने अपने स्वतंत्रता दिवस के भाषण में महिला सशक्तिकरण के बारे में बात की थी, लेकिन दोषियों की रिहाई के साथ क्या उदाहरण दिया जा रहा है.

ये भी पढ़ें : Bihar: लोजपा के दोनों धड़ों को साथ लाने की तैयारी में BJP, 2024 लोकसभा चुनाव में 35 सीटें जीतने का लक्ष्य

उन्होंने पूछा, “प्रधानमंत्री अमृत उत्सव का क्या उदाहरण दे रहे हैं? गुजरात में भाजपा की सरकार है.” ओवैसी ने भी उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार पर नाथूराम गोडसे की तस्वीर के साथ कथित तौर पर निकाली जा रही ‘तिरंगा यात्रा’ को लेकर निशाना साधा. उन्होंने कहा, “गोडसे के समर्थन में निकाला गया जुलूस योगी सरकार के ‘छतर छाया’ (संरक्षण, संरक्षण आदि) में निकला. मैं यही कह रहा हूं. दिल में गोडसे के लिए प्यार और जुबान पर गांधी का नाम, ” 

VIDEO: अमृतसर : पुलिस अफसर की कार में बम लगाते दिखे संदिग्ध, CCTV में कैद हुई घटना



Source link

पिछला लेखकॉम्बो ब्रेकफास्ट डाइजेशन को करे बेहतर, वजन घटाने में भी बेहद कारगर
अगला लेख10वीं पास युवाओं के लिए BSF में निकली वैकेंसी: 25 साल तक के कैंडिडेट्स 19 सितंबर तक कर सकेंगे अप्लाई, 81 हजार तक मिलेगी सैलरी
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।