कमजोर बृहस्पति करता है मान-सम्मान में कमी, लाल किताब से जानें इसे दूर करने के उपाय

0
1


Lal Kitab Upay In Hindi: लाल किताब में बृहस्पति ग्रह एक शुभ ग्रह माना गया है. पीपल, पीला रंग, सोना, हल्दी, चने की दाल, पीले फूल, केसर, गुरु, पिता, वृद्ध पुरोहित, विद्या और पूजा-पाठ यह सब बृहस्पति के प्रतीक माने गये हैं. मजबूत बृहस्पति मान-सम्मान और प्रतिष्ठा बढ़ाता है लेकिन निर्बल होने पर यह अशुभ फल देता है. लाल किताब में बृहस्पति को मजबूत करने के कई कारगर और सरल उपाय बताए गए हैं.

बृहस्पति का नकारात्मक प्रभाव 

लाल किताब के अनुसार जब कुंडली में बृहस्पति पीड़ित होता है तो व्यक्ति शारीरिक और मानसिक रूप से परेशान रहता है. इसके प्रभाव से गले में दर्द और फेफड़े की बीमारी हो सकती है. शिक्षा में व्यवधान उत्पन्न होने लगता है. आंखों में दिक्कत होती है. सपने में सांप दिखाई देते हैं और बेकार की अफवाहों से व्यक्ति के मान- सम्मान में कमी आती है.

लाल किताब के अनुसार बृहस्पति की शांति के उपाय

लाल किताब के अनुसार बृहस्पति कमजोर हो तो हल्दी की गांठ पीले रंग के धागे में बांधकर इसे दायीं भुजा पर बांधें. 27 गुरुवार तक केसर का तिलक लगाना फायदेमंद रहता है. बृहस्पतिवार के दिन पीले रंग के वस्त्र पहनना चाहिए. जिनका बृहस्पति कमजोर हो उन्हें घर में पीले सूरजमुखी का पौधा लगाना चाहिए. बृहस्पति ग्रह की शांति के लिए जरूरतमंदों को चीनी, केला, पीला कपड़ा, केसर, नमक, मिठाई और हल्दी का दान करना चाहिए. गुरूवार के दिन ब्राह्मणों को दही चावल खिलाना शुभ माना जाता है. 

Vastu Tips: नारियल में होता है मां लक्ष्मी का वास, इससे जुड़े खास वास्तु टिप्स दिलाते हैं सफलता

Shakun Apshakun: रविवार के दिन भूलकर भी न खरीदें ये 3 चीजें, माना जाता है अपशकुन

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें. 



Source link

पिछला लेख“हमारे पास पर्याप्त स्टॉक…”, गेहूं आयात करने की खबरों को सरकार ने किया खंडन
अगला लेखBen Affleck and Jennifer Lopez: दूसरी बार जेन‍िफर लोपेज और बेन एफ्लेक ने की शादी, फोटोज वायरल
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।