एंग्जायटी से राहत पाने के लिए फायदेमंद हैं ये 5 ड्रिंक्‍स

0
1


Drinks for Anxiety Relief : आज की भागती दौड़ती दुनिया में हम तकनीकी रूप से तो विकास कर रहे हैं लेकिन हमारी मानसिक, शारीरिक और आध्यात्मिक समस्याएं नाटकीय रूप से बढ़ती जा रही हैं.  बेहतर लाइफ स्‍टाइल की तलाश में हमारा स्‍ट्रेस लेवल नई ऊंचाइयों पर पहुंच गया है. मेडइंडिया के मुताबिक, लोग स्‍ट्रेस और एंजायटी से बचने के लिए शराब या दवाओं का सहारा ले रहे हैं. यह न केवल एक खतरनाक प्रवृत्ति है, बल्कि यह आपको दवाओं पर निर्भर होने के अलावा दवाओं के प्रतिकूल प्रभावों के जोखिम में भी डालती है. ऐसे में नेचुरल तरीके से तनाव और घबराहट को दूर करना सबसे बेहतर तरीका माना जाता है.

आप अपने खानपान और लाइफस्‍टाइल में बदलाव लाकर एंग्‍जायटी और स्‍ट्रेस को दूर रख सकते हैं. यहां हम आपको कुछ ऐसे ड्रिंक्‍स के बारे में बताते हैं जो आपको एंग्‍जायटी से बचा सकते हैं और आपको बेहतर महसूस करा सकते हैं.

कैमोमाइल चाय

कैमोमाइल चाय एक बहुत लोकप्रिय हर्बल चाय है जो तनाव, चिंता और अनिद्रा के इलाज के लिए उपयोगी माना जाता है. यह आपके तंत्रिका तंत्र को शांत करने, मांसपेशियों को आराम देने और रात को अच्छी नींद लेने में मदद करने के लिए जाना जाता है.  इसे बनाने के लिए आप कैमोमाइल फूल को गर्म पानी में डालकर तीन से पांच मिनट के लिए छोड़ दें और ठंडा या गर्मागर्म पिएं.

इसे भी पढ़ें: Homemade Energy Drinks: गर्मियों में भरपूर एनर्जी के लिए ट्राई करें ये 5 होममेड ड्रिंक्स

गर्म दूध

रात में अगर आप गर्म दूध पियें तो दूध में मौजूद अमीनो एसिड ट्रिप्टोफैन होता है जो सेरोटोनिन में बदल जाता है और फील गुड हार्मोन को रिलीज करने में मदद करता है. जिससे आप स्‍ट्रेस या एंग्‍जायटी से रिलीफ पाते हैं.

चेरी जूस

चेरी में मेलाटोनिन पाया जाता है जो एक हार्मोन होता है ओर जो नींद के चक्र को नियंत्रित करने में मदद करता है. बेहतर नींद से आप तनाव में आराम पाते हैं.

ग्रीन टी

ग्रीन टी में एंटीऑक्सिडेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कोशिकाओं में ऑक्सीडेटिव क्षति को कम करने और आपके शरीर और मस्तिष्क के कार्यों में सुधार करने में मदद करता है. इसके सेवन से उदासी, अवसाद, तनाव, चिंता कम होती है.

यह भी पढ़ें-
60 की उम्र के बाद इन हेल्दी तरीकों से अपने बढ़े हुए वजन को करें कम

ओट स्ट्रॉ ट्री

ओट स्‍ट्रॉ जई का भूसा यानी हरी जई से बनता है जो मानसिक थकावट और अवसाद के इलाज के लिए परंपरा से इस्‍तेमाल किया जाता रहा है. आप इसे अगर चाय के रूप में  पियें तो आप बेहतर महसूस करेंगे.

Tags: Health, Lifestyle, Mental health



Source link

पिछला लेखसारा और रिया के बाद कार्तिक आर्यन ने भी किया सुशांत सिंह राजपूत को याद, कहा- ‘सितारा हमेशा चमकता है’
अगला लेखIND vs SA highlights: करो या मरो के मुकाबले में जीता भारत, टी-20 सीरीज में वापसी, पटेल-चहल चमके
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।