इस तरह से करें हरियाली तीज की पूजा

0
0


Hariyali Teej 2022: हर साल श्रावण शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरियाली तीज मनाया जाता है. तीज का त्योहार साल में तीन बार मनाया जाता है, जिन्हें हरियाली तीज, कजरी तीज, हरतालिका तीज कहते हैं. हरियाली तीज को मधुश्रवा तृतीया या छोटी तीज के नाम से भी जाना जाता है. माना जाता है कि हरियाली तीज (Hariyali Teej) के दिन माता पार्वती और भगवान शंकर का मिलन हुआ था. यह व्रत सुहागिन स्त्रियों के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है. इस दिन सुहागन स्त्रियां अपने सुहाग की सलामती की कामना करती हैं और भगवान शंकर और मां पार्वती की पूजा अर्चना करती हैं.महिलाएं इस दिन निर्जला व्रत रखती हैं. विवाह योग्य कन्याएं सुयोग्य वर की कामना से हरियाली तीज का व्रत रखती हैं. आइए जानते हैं कैसे करें हरियाली तीज पूजा और मंत्रों का जाप.

हरियाली तीज पूजा विधि

  • इस दिन महिलाएं ब्रह्म मुहूर्त में उठें और सभी कामों से निवृत्त होकर स्नान करके स्वच्छ कपड़े पहनें.
  • इसके बाद भगवान शिव और माता पार्वती का ध्यान करते हुए व्रत का संकल्प लें 
  • इस दिन बालू के भगवान शंकर व माता पार्वती की मूर्ति बनाएं और एक चौकी पर शुद्ध मिट्टी में गंगाजल मिलाकर शिवलिंग, रिद्धि-सिद्धि सहित गणेश, पार्वती एवं उनकी सहेली की भी मूर्ति बनाएं.
  • इस बात का ध्यान रखें कि प्रतिमा बनाते समय भगवान का स्मरण करते रहें और पूजा करते रहें.
  • साथ ही उमामहेश्वरसायुज्य सिद्धये हरितालिका व्रतमहं करिष्ये मंत्र का जाप भी करें.
  • इसके बाद माता को श्रृंगार का समाना अर्पित करते हुए भगवान शिव और माता पार्वती का आवाह्न करें.
  • माता पार्वती, शिव जी और गणेश जी की पूजा करें. शिव जी को वस्त्र अर्पित करें और हरियाली तीज की कथा सुनें.
  • माता पार्वती की पूजा के बाद सास को सुहाग की थाली दें. अगर सास नहीं हैं तो घर की किसी भी महिला को आप ये दे सकती हैं.

माता पार्वती की आराधना के मंत्र 
माता पार्वती की आराधना करते समय इस मंत्र का जाप करें –

  • ऊं उमायै नम:
  • ऊं पार्वत्यै नम:
  • ऊं जगद्धात्र्यै नम:
  • ऊं जगत्प्रतिष्ठयै नम:
  • ऊं शांतिरूपिण्यै नम:
  • ऊं शिवायै नम:

भगवान शिव की आराधना के मंत्र 
भगवान शिव की आराधना करते समय इस मंत्र का जाप करें –

  • ऊं हराय नम:
  • ऊं महेश्वराय नम:
  • ऊं शम्भवे नम:
  • ऊं शूलपाणये नम:
  • ऊं पिनाकवृषे नम:
  • ऊं शिवाय नम:
  • ऊं पशुपतये नम:
  • ऊं महादेवाय नम:

ये भी पढ़ें :- Hariyali Teej 2022 Vrat: कुंवारी लड़कियां हरियाली तीज का व्रत रखते समय रखें इन बातों का ध्यान

Hariyali Teej 2022: हरियाली तीज पर अखंड सौभाग्य के लिए जरूर पढ़ें इस कथा को 

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.



Source link

पिछला लेखBSNL में जान फूंकने के लिए 1.64 लाख करोड़ रुपये के पैकेज को मंजूरी, Airtel-Jio को मिलेगी कड़ी टक्कर
अगला लेखप्रेम चोपड़ा के निधन की उड़ी अफवाह: दिग्गज एक्टर बोले- मैं बिल्कुल ठीक हूं, मुझे सुबह से मेरी तबीयत को लेकर कई कॉल्स ​​​​​​​आ चुके हैं
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।