आपके खर्राटे छीन सकते हैं दूसरों की चैन की नींद, जानें इससे छुटकारा पाने का तरीका

0
0


How to Stop Snoring: सोते समय सांस लेने के साथ साथ तेज आवाज आने को खर्राटे कहते हैं. खर्राटे आना नींद से संबंधित एक ऐसी समस्या है जो खर्राटे लेने वाले को तो परेशान नहीं करती लेकिन इससे दूसरों की चैन की नींद जरूर उड़ जाती है. कभी कभी खर्राटे की समस्या लोगों के बीच शर्मसार भी करती है. खर्राटे तब आते हैं जब सोने वाला व्यक्ति सांस अंदर की ओर खींचता है. कई बार लोग सोचते हैं कि यह एक आम समस्या है और इसका कोई इलाज नहीं है लेकिन ऐसा नहीं है.

सोते समय सांस लेते और छोड़ते हैं जब गर्दन की मांसपेशियां बहुत अधिक शिथिल हो जाती हैं जिससे वायुमार्ग काफी संकरा हो जाता है और इससे खर्राटे आने लगते हैं. हेल्थशॉट्स की खबर के अनुसार कई बार सर्दियों में नाक का मार्ग बंद होने की वजह से भी खर्राटे आने लगते हैं. यह स्लीप एपनिया जैसी बीमारी की वजह से भी आ सकते हैं. आइए जानते हैं उन तरीकों के बारे में जिससे खर्राटे से छुटकारा पाया जा सकता है…

अपनी सोने की मुद्रा बदलें: अगर आपको खर्राटे ज्यादा आते हैं तो हो सकता है कि आप पीठ के बल सो रहे हो. पीठ के बल सोने से चीभ पीछे की तरफ चली जाती है और इससे वायुमार्ग प्रतिबंधित हो जाता है और खर्राटे आने लगते हैं. एक बार आपको अपने सोने की मुद्रा में बदलाव करना चाहिए.

अपना वजन कम करें: कई बार बॉडी मास इंडेक्स अधिक होने की वजह से भी खर्राटे अधिक आते हैं. यदि आपका वजन सामान्य से अधिक है तो आपको वजन करने पर विचार करना चाहिए.

फैटी लिवर डिजीज से ब्रेन की बीमारियों का भी बढ़ सकता है जोखिम, जानें इसके गंभीर लक्षण

सोने से पहले शराब से परहेज करें: अगर सोने से पहले आप शराब का सेवन करते हैं तो यह भी खर्राटे आने की एक बड़ी वजह हो सकता है. आपको सोने से कम से कम 3-4 घंटे पहले शराब पीने से बचना चाहिए. सोने से तुरंत पहले शराब का सेवन करने से गले का वायु मार्ग संकरा हो जाता है और इससे खर्राटे आने लगते हैं.

पर्याप्त नींद लें: खर्राटे आने के पीछे एक बड़ी वजह नींद की कमी होना भी हो सकता है. अच्छी हेल्थ के लिए जरूरी है कि आप हर दिन कम से कम 6-8 घंटे की नींद जरूर लें.

एक अतिरिक्त तकिया लगाएं: खर्राटों से बचने के लिए आप रात में सोते समय एक अतिरिक्त तकिए का इस्तेमाल कर सकते हैं. गर्दन ऊपर की तरफ उठने से वायु मार्ग ओपेन हो जाता है और इससे खर्राटे आने की संभावना भी कम हो जाती है.

पुदीने का तेल: खर्राटे की समस्या से छुटकारा पाने में पुदीना भी आपकी मदद कर सकता है. पुदीने में कई ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो गले और नासाछिद्रों की सूजन को कम करने में कारगर होते हैं. इससे सांस लेना आसान हो जाता है. सोने से पहले पिपरमिंट ऑयल की कुछ बूंदों को पानी में डालकर उससे गरारे कर लें. नियमित इसके इस्तेमाल से आपको बड़ा फर्क समझ में आएगा.

Tags: Health, Lifestyle



Source link

पिछला लेखjio value pack rs 1559, Jio दे रहा 336 दिन की खुशियां! 1,559 रुपये वाले प्लान में एक साल तक की वैधता समेत काफी कुछ – jio value pack rs 1559 with 336 days validity data sms calling and more
अगला लेखdiscount on iphone 13, साल के आखिरी दिन iPhone 13 पर सबसे बड़ा डिस्काउंट, फिर नहीं मिलेगा यह मौका – iphone 13 128gb available with massive discount know details
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।