आज का शब्द: कन्हैया और भारत भूषण की रचना- मेरी नींद चुराने वाले

0
0


                
                                                                                 
                            

'हिंदी हैं हम' शब्द श्रृंखला में आज का शब्द है- कन्हैया, जिसका अर्थ है- कृष्ण, बहुत सुंदर व्यक्ति, प्रिय व्यक्ति। प्रस्तुत है भारत भूषण की रचना- मेरी नींद चुराने वाले 

मेरी नींद चुराने वाले, जा तुझको भी नींद न आए
पूनम वाला चाँद तुझे भी सारी-सारी रात जगाए

तुझे अकेले तन से अपने, बड़ी लगे अपनी ही शैय्या
चित्र रचे वह जिसमें, चीरहरण करता हो कृष्ण-कन्हैया
बार-बार आँचल सँभालते, तू रह-रह मन में झुँझलाए
कभी घटा-सी घिरे नयन में, कभी-कभी फागुन बौराए
मेरी नींद चुराने वाले, जा तुझको भी नींद न आए
 

आगे पढ़ें

23 minutes ago



Source link

पिछला लेखJames Anderson ENG vs SA: जेम्स एंडरसन ने चकनाचूर किया 110 वर्ष पुराना वर्ल्ड रिकॉर्ड, बने ऐसा करने वाले पहले तेज गेंदबाज
अगला लेख‘यह अपराध माफी योग्य नहीं’ : जालोर में दलित छात्र की मौत पर बोले भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।