अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा- तीन साल पहले ही सीरिया के राष्ट्रपति को खत्म कर देना चाहता था, रक्षा मंत्री ने रोक दिया था

0
2


  • Hindi News
  • International
  • Donald Trump Bashar Al Assad | Donald Trump Said Wanted To Kill Syria President Bashar Al Assad But Then Defence Secretary Jim Mattis Opposed It.

वॉशिंगटन6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि वे 2017 के आखिर में ही सीरियाई नेता बशर अल असद को खत्म कर देना चाहते थे। ट्रम्प के मुताबिक, उनके प्लान से तब के अमेरिकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस सहमत नहीं थे। बाद में मैटिस ने ट्रम्प से मतभेदों के चलते इस्तीफा दे दिया था। (फाइल)

  • सीरिया में राष्ट्रपति बशर अल असद की सरकार है, इसे रूस का समर्थन हासिल है
  • अमेरिका ने कई बार रूस को सीरिया में दखल न देने की चेतावनी दी है

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने एक बड़ा खुलासा किया है। यह खुलासा सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद के बारे में है। मंगलवार को ट्रम्प ने कहा- मैं तीन साल पहले यानी 2017 में सीरियाई लीडर बशर अल असद को खत्म कर देना चाहता था। इसके लिए प्लान भी तैयार था। लेकिन, जिम मैटिस (तब के अमेरिकी रक्षा मंत्री) ने मुझे असद को खत्म करने से रोक दिया था। मंगलवार को अमेरिका की मध्यस्थता के बाद इजराइल ने बहरीन और यूएई के साथ कूटनीतिक संबंध स्थापित करने का समझौता किया था। ट्रम्प ने इसे अपनी बड़ी कामयाबी भी करार दिया।

क्या कहा ट्रम्प ने
एक टीवी शो के दौरान डोनाल्ड ट्रम्प ने पहली बार सीरियाई नेता को लेकर इतने तल्ख तेवर दिखाए। कहा- मैं उन्हें बाहर निकाल देना चाहता हूं। इसके लिए पूरी तैयारी कर ली थी। मैं उन्हें खत्म कर देना चाहता था। 2017 में इसके लिए पूरा ऑपरेशन प्लान किया जा चुका था। लेकिन, मैटिस इसके लिए तैयार नहीं थे। मैटिस को बहुत ज्यादा तवज्जो दी जाती थी। मैंने उन्हें भी हटा दिया था।

मैटिस से दूरियां
मैटिस को लेकर ट्रम्प की नाराजगी पहली बार सामने नहीं आई। दो साल पहले भी उन्होंने इस अमेरिकी जनरल के रवैये पर नाराजगी जताई थी। खास बात यह है कि ट्रम्प ही मैटिस को पेंटागन में लेकर आए थे। लेकिन, सीरिया और कुछ दूसरे मुद्दों पर ट्रम्प मैटिस से सहमत नहीं थे। हालांकि, अमेरिकी राष्ट्रपति ने एक बार मैटिस को महान जनरल भी कहा था। बहरहाल, दोनों करीब एक साल ही साथ काम कर सके। 2018 के आखिर में मैटिस ने इस्तीफा दे दिया था।

अमेरिकी कमांडो तैयार थे
सीरियाई लीडर असद पर आरोप है कि उन्होंने अप्रैल 2017 में नागरिकों पर कैमिकल अटैक कराया था। इसके कुछ फोटोग्राफ भी सामने आए थे। ये वे नागरिक थे, जो असद के विरोधी माने जाते थे। कैमिकल अटैक की कभी पुष्टि नहीं हो सकी। लेकिन, ट्रम्प ने उसी वक्त वादा किया था कि असद को इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, ट्रम्प ने 2017 के आखिर में अमेरिकी फौज और कमांडो दस्ते को आदेश दिया था कि वो असद को खत्म कर दे। लेकिन, मैटिस की वजह से यह मुमकिन नहीं हो पाया। ट्रम्प ने कहा- असद अच्छे आदमी तो बिल्कुल नहीं हैं।

0



Source link