अगले एकेडमिक सेशन के लिए 25 फीसदी तक सिलेबस कम करेगा बोर्ड, एक्सपर्ट से सलाह के बाद लिया फैसला

0
2


  • मानव संसाधन विकास मंत्री ने सिलेबस कम करने लिए मांगे सुझाव
  • ऑनलाइन क्लासेस के जरिए पढ़ा रहे CISCE से जुड़े कई स्कूल

दैनिक भास्कर

Jul 04, 2020, 08:14 PM IST

काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) ने अगले एकेडमिक सेशन में 10वीं- 12वीं के सभी प्रमुख विषयों के सिलेबस को 25 फीसदी तक कम करने का फैसला किया है। इस बारे में बोर्ड ने एक ऑफिशियल नोटिफिकेशन जारी कर बताया कि, “मौजूदा सत्र 2020-21 के दौरान अनुदेशात्मक घंटों में होने वाले नुकसान के लिए निर्णय लिया गया है।” बोर्ड ने कहा कि विशेषज्ञों के परामर्श के बाद पाठ्यक्रम को कम करने का फैसला लिया गया है। 

लॉकडाउन में जारी ऑनलाइन क्लासेस 

कोरोना और लॉकडाउन की वजह से पिछले तीन महीने से देशभर के स्कूल बंद हैं। ऐसे में इस बदले  परिदृश्य को अपनाते हुए CISCE से जुड़े कई स्कूलों ऑनलाइन क्लासेस के जरिए पढ़ाई जारी रखे हुए। नोटिफिकेशन में यह भी कहा गया है कि “CISCE से संबद्ध स्कूलों के प्रमुख यह सुनिश्चित करें कि ICSE और ISC स्तरों पर संबंधित विषयों के शिक्षक पाठ्यक्रम में दिए गए विषयों के अनुक्रम के मुताबिक ही पढ़ाई जारी रखे, ताकि इस नुकसान को सुविधाजनक बनाया जा सके। 

CBSE भी करेगा सिलेबस कम

इससे पहले, मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने भी आने वाले एकेडमिक ईयर के लिए सिलेबस को कम करने के लिए पैरेंट्स, टीचर्स और अन्य हितधारकों से सुझाव मांगे थे। चूँकि JEE Main और NEET, NCERT सिलेबस पर आधारित हैं, इसलिए 11वीं और 12वीं के सिलेबस में कमी का प्रवेश परीक्षा पर असर पड़ सकता है। ऐसे में मंत्री ने 30 प्रतिशत पाठ्यक्रम कम करने का संकेत दिया था, लेकिन अभी तक कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया था।



Source link

पिछला लेखICMR की बात पर CCMB निदेशक ने कहा, ‘6-8 महीने से पहले नहीं आ सकता कोविड-19 का टीका’
अगला लेखMonsoon Pregnancy: इस मौसम में रखें अपना ज़्यादा ख़्याल, काम आएंगे ये टिप्स
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।