अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022: कंधे और कमर को मजबूत बनाता है भुजंगासन, इस तरह करें योगाभ्‍यास

0
0


International Yoga Day 2022: महर्षि पतंजलि ने अपने अष्‍ठांग योग में आठ अंगों का वर्णन किया है और आसन-प्राणायाम को सही तरीके से अपने जीवन में स्‍थापित करने की बात बताई है. इनका मकसद, सामाजिक जिम्‍मेदारी और व्‍यक्तिगत शुद्धी करना है. यहां हम आपको बताने की कोशिश कर रहे हैं कि मानवता के साथ योग किस प्रकार जुड़ा हुआ है. हमने पिछले कुछ दिनों में यम और नियम पर विस्‍तार से चर्चा की है जिसमें से आखिरी नियम है ईश्‍वर प्रणिधान. यानी कि खुद को ईश्‍वर को समर्पित कर देना और कार्य करते हुए फल की चिंता ईश्‍वर पर छोड़ देना. इन सारी जानकारियों को देते हुए आज न्यूज़18 हिंदी के फेसबुक लाइव सेशन में योग प्रशिक्षिका सविता यादव (Savita Yadav) ने योग के बारे में कई जानकारियां दीं और शलभासन, भुजंगासन, सेतुबंधान सहित कई ज़रूरी आसन व प्राणायाम का अभ्‍यास कराया.

ऐसे शुरू करें योगाभ्यास
मैट पर कमर गर्दन सीधी करते हुए किसी भी आसन में बैठें. ध्‍यान की मुद्रा बनाएं और अपनी आती-जाती सांस पर ध्‍यान केंद्रित करें. बंद आंखों से खुद को देखने का प्रयास करें. ओम या किसी मंत्र का उच्चारण करें.

इस तरह करें चालन क्रियाएं
-ग्रीवा शक्ति विकासक क्रिया करने के लिए आप योग मैट पर सीधे खड़े हो जाएं और सांस लेते हुए अपनी गर्दन को पीछे की तरफ लेकर जाएं. अब सांस छोड़ते हुए अपनी गर्दन को आगे लेकर आएं. इसी तरह सांस लेते हुए गर्दन को दाईं और फिर बाईं तरफ घुमाएं. अब क्लॉक वाइज़ और फिर एंटी क्लॉक वाइज़ इस क्रिया को करें.

यह भी पढ़ें – अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022: महिलाओं के लिए रामबाण है भद्रासन, ऐसे करें अभ्यास

-स्कंद शक्ति विकासक क्रिया करने के लिए गहरी सांस लेते हुए दोनों हाथों को ऊपर की तरफ स्‍ट्रेच करते हुए सीधा लेकर जाएं. अब सांस छोड़ते हुए हाथों को नीचे लेकर आएं. यह प्रक्रिया 10 बार करें. विस्‍तार से देखने के लिए वीडियो लिंक पर क्लिक करें.

अब करें योगासन

भुजंगासन
अपने अपने मैट पर पेट के बल लेट जाएं और दोनों पंजों को बाहर की तरह निकाल कर रिलैक्‍स की मुद्रा में हो जाएं. दोनों हथेलियों को अपने चेहरे के पास मैट पर रखें  और उस पर सिर रखें. अब इस आसन को करने के लिए हाथों को कंधों से सटाकर मैट पर रखें. दोनों पैरों को आपस में जोड़ें. ध्‍यान रहे कि एड़ियां और पंजे आपस में जुड़े हों. अब कमर से उठाएं. अब पूरा वजन कंधे पर लेते हुए बॉडी को स्‍ट्रेच करें और आकाश की तरफ देखने का प्रयास करें. इसी मुद्रा में कुछ देर रहें. 10 तक गिन सकते हैं. अब सांस छोड़ते हुए पहली मुद्रा में आ जाएं. इसे करने से कमर, कंधे, पीठ आदी में दर्द से आराम मिलता है और यहां के मसल्‍स मबजूत बनते हैं.

शलभासन
अब मैट पर इसी मुद्रा में लेटे हुए थाई के नीचे हथेलियों को दबाएं और चेहरे को आगे की तरफ रखें. अब गहरी सांस लेते हुए दोनों पैरों को घुटना मोड़े बिना उठाने का प्रयास करें और होल्‍ड कर रखें. अगर आप शुरू में दोनों पैर एक साथ नहीं उठा पाते हैं, तो आप एक एक पैरों को उठाने का प्रयास करें. ऐसा करने से आपके कमर, पीठ, पैर आदि मजबूत होंगे और दर्द आदि दूर रहेगा.

 

इसे भी पढ़ें : अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022: कमर की चर्बी कम करने के लिए करें त्रिकोणासन, जानें सही तरीका

सेतुबंधासन
पीठ को मजबूत बनाने के लिए आप सेतुबंधासन करें. इसके लिए आप मैट पर पीठ के बल लेट जाएं और घुटनों को उतना मोड़ें कि हाथ सो एड़ियों को पकड़ सकें. अब कमर को जितना अधिक हो सके उठाएं. होल्‍ड करें और सांस छोड़ते हुए वापस पुराने पोजिशन में लेट जाएं. पूरा अभ्‍यास आप वीडियो लिंक पर देख सकते हैं.

Tags: Benefits of yoga, Health, International Day of Yoga, International Yoga Day, Lifestyle



Source link

पिछला लेखShoib Ibrahim Birthday: शोएब इब्राहिम की जिंदगी नहीं किसी फिल्मी कहानी से कम, ऐसे मिली थी दीपिका कक्कड़ और अपना आशियाना
अगला लेखHoroscope Today 20 June: वृषभ और मिथुन समेत इन चार राशि वालों को मिलेंगे कुछ अच्छे मौके, योजनाएं होंगी कामयाब
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।